सोचने का नजरिया Best Motivational Hindi Stories

Old House Story in Hindi

Best Motivational Hindi Stories

एक किसान शहर से दूर अपने एक घर में रहता था। उसके घर में किसी प्रकार की कमी नहीं थी, लेकिन फिर भी वह किसान खुश नहीं था। उसे लगता जैसे यह गाँव एक जंगल हैं, और वह इसमें बहुत अकेला हैं। एक दिन उसने अपने गांव के घर को बेचकर, शहर में एक आलीशान बंगला लेने न निश्चय किया।

अगले दिन उसने अपने एक दोस्त को शहर से बुलाया, और रियल स्टेट में काम करता था। उसने उससे कहा, कि मेरा ये घर बेचकर मुझे शहर में एक अच्छा सा मकान दिला दो।

उसके दोस्त ने उससे पूछा, भाई तुम ये अपना पूर्वजो का इतना सुन्दर घर क्यों बेचना चाहते हो ? कोई समस्या हैं या पैसो की कुछ जरुरत हैं तो मुझे बताओ।

किसान ने अपने दोस्त की बात सुनकर उससे कहा – ये घर गांव से कई किलोमीटर दूर हैं। यहाँ पर शहर की तरह पक्की सड़के नहीं हैं, सारे रास्ते उबड़ खाबड़ हैं। ये नदी जिसने बारिश होने पर पानी भर जाता हैं, इसे पर करके ही शहर को जाना पड़ता हैं। यहाँ इतने सारे पेड़ पौधे लगे हैं, जब हवा चलती हैं घर में पत्ते पत्ते हो जाते हैं, सफाई करने में भी बड़ी दिक्कत होती हैं। ये पहाड़ देखो, सर्दियों में इनपर बर्फ गिर जाती हैं, जिससे बड़ी दिक्कत होती हैं। अब बताओ मैं कैसे रह पाउँगा इस घर में।

उसके दोस्त ने कहा – ठीक हैं मैं जल्दी ही तुम्हारा घर बिकवा दूंगा। ऐसा कहकर वह चला गया।

अगर दिन वह किसान सुबह अख़बार पढ़ रहा था, तब उसने अख़बार में एक घर का ऐड देखा। ऐड में लिखा था, शहर की भीड़ भाड़ से दूर, पहाड़ियों से घिरे हुए, ताजी हवा से परिपूर्ण एक सुन्दर घर में बसाये अपने सपनो का घर। घर खरीदने के लिए इस नंबर xxxxxxxxx पर संपर्क करे।

किसान को वह ऐड बहुत पसंद आया। उसने उस घर को खरीदने के मन बना लिया। उसने जब उस नंबर पर फ़ोन किया, तब वह यह जानकार हैरान रहा गया, यह तो उसी के घर का ऐड हैं। अब वह से समझ गया, वह तो पहले से ही अपने पसंद के घर में रह रहा हैं। अब वह खुश था। उसने जल्दी से अपने दोस्त को फोन करके अपने घर को बेचने से मना कर दिया।

दोस्तों हम में से भी अधिकतर लोगो को इस किसान की तरह ही अपने जीवन से कई प्रकार की कंप्लेन होती हैं। हम सोचने हैं, हमारा जीवन सबसे ख़राब हैं, हमारे जीवन में ही सबसे अधिक दुःख हैं। हमारा घर बेकार हैं, हमारी नौकरी बेकार हैं, सब कुछ बेकार हैं।

पर क्या आपने कभी अपनी ज़िन्दगी को दुसरो की नजरो से देखने की कोशिश की हैं ?

दोस्तों अपनी ज़िन्दगी को कभी दुसरो की नजरो से देखने की कोशिश करो, तब आप पाएंगे कि आपकी लाइफ दुसरो से कितनी अच्छी हैं, आपकी जॉब दुसरो से कितनी अच्छी है, आप दुसरो से कितने बेहतर हैं।

आपको हमारी ये कहानी कैसी लगी, हमें जरूर बताये।


6 Comments

  1. Gurwinder
  2. AsweenJ
  3. Deepali Agrawal
  4. Ankur Rathi
  5. Dharm Singh chauhan
  6. Rajul

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × three =