कबूतर और शिकारी Inspirational Kahani in Hindi

Dadi Maa Ki Kahaniya

एक बार एक शिकारी शिकार करने गया। शिकारी को सुबह से शाम हो गयी लेकिन उसके हाथ कुछ ना लगा। अचानक शिकारी के जाल में एक कबूतर फस गया। शिकारी उस कबूतर को देखकर बहुत खुश हुआ।

शिकारी कबूतर को अपने साथ लेकर जाने लगा। रास्ते में कबूतर ने शिकारी से पूछा – तुम मुझे कहाँ ले जा रहे हो ?

शिकारी बोला – मैं तुम्हे अपने घर ले जा रहा हूँ, मैं तुम्हे पकाकर खाऊंगा। बड़ा मजा आयेग।

शिकारी की बात सुनकर कबूतर चुप रहा और उससे बोला – मेरा जीवन तो अब समाप्त होने वाला है , लेकिन उससे पहले मेरी एक आखरी इच्छा है।

शिकारी ने कबूतर से पूछा – बताओ अपनी आखरी इच्छा, मैं पूरी करूँगा उसे।

कबूतर बोला – मेरी माँ ने मरने से पहले मुझे दो काम की बाते बताई थी, मरने से पहले मैं तुम्हे वो बाते बताना चाहता हूँ, शायद तुम्हारे कुछ काम आ जाये।

पहली बात – किसी की भी बात पे बिना सोचे समझे विश्वास नहीं करना चाहिए।

दूसरी बात – कुछ बुरा होने पर या कुछ छूट जाने पर अफ़सोस नहीं करना चाहिए।

कबूतर की बात सुनकर शिकारी आगे बढने लगा। शिकारी कुछ ही दूर चला था कि कबूतर उससे बोला – मेरे पास एक हीरे की अंगूठी है, अगर मैं वो अंगूठी तुम्हे दे दू, तो क्या तुम मुझे आजाद कर दोगे।

हीरे का नाम सुनकर शिकारी के मन में लालच आ गया, और उसने कहा मैं तुम्हे आजाद कर रहा हूँ, तुम जल्दी से वो हीरा लाकर मुझे दे दो।

कबूतर आजाद होते ही दूर एक बड़े से पेड़ पर जाकर बैठ गया, और शिकारी से बोला – मेरे पास कोई हीरा नहीं है।

मैंने अभी तुमसे बोला था, किसी की बात पे बिना सोचे समझे विश्वास नहीं करना चाहिए। कबूतर की बात सुनकर शिकारी बहुत दुखी हुआ। उसे दुखी देखकर कबूतर बोला मैंने तुम्हे यह भी बताया था कि कुछ बुरा होने या छूट जाने का दुःख नहीं करना चाहिए।

दोस्तों यह कहानी छोटी लेकिन प्रेणनादायक है। इससे हमें दो बाते सीखने को मिलती है –

1 . हमें किसी भी अनजान व्यक्ति पर बिना जाने पहचाने विश्वास।

2 . हमें कभी भी कुछ बुरा हो जाने, या कुछ छूट जाने पर दुखी नहीं होना चाहिए, बल्कि अपनी उस भूल से सीख लेनी चाहिए, जिससे आप भविष्य में कभी ऐसी गलती नहीं करेगे।

15 Comments

  1. Rachna
  2. अनिल साहू
  3. HindIndia
  4. suraj yadav
  5. HindIndia
  6. Deepak
  7. sachin
    • admin
  8. supportmeyaar.com
  9. Ankur Rathi
  10. sandeep nigam
  11. diptiranjan
  12. AchhiAdvice
  13. kuldeep Kumar
  14. kuldeep Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 5 =