Shahrukh Khan Bollywood Movies Hit Dialogs in Hindi

दोस्तों फिल्में केवल मनोरंजन का साधन हैं, लेकिन मेरे अनुसार अगर हम फिल्मों को ध्यान से देखे, तो फिल्मों के अंदर कुछ ऐसी बातें भी होती हैं, जिन्हे सुनकर अगर आप अपने जीवन में अपनाये, तो आपकी ज़िन्दगी बदल जायेगी।

आज अपनी इस पोस्ट में मैं आपको बताऊँगी, फिल्मों के वो 10 डायलॉग जो जीवन की हर एक प्राब्‍लम को सॉल्व करके, हमें आगे जाने के लिए प्रेरित करते हैं –

फिल्म “कल हो न हो” में शाहरुख खान ने एक बहुत ही बेहतरीन डायलॉग बोला था, जो ये था, कि “हमारे पास जो होता है, वो हमारे हिसाब से कम होता है, लेकिन जो हमारे पास है, अगर हम उसे दूसरों की नजरो से देखें, तो हमें लगेगा, कि हमारे पास तो बहुत कुछ है।

अगर आपके पास कोई डिग्री नहीं है, यह जानते हुये भी कोई आपको नीचा दिखाने के लिये आपसे आपकी डिग्री पूछे, तो आप कह सकते हैं, कि “डिग्री से सिर्फ सर्टिफिकेट मिलता है काम करने के लिये अकल चाहिये जो डिग्री से नहीं मिलती।”

Sharukh-Khan-Hit-Dialoges

शाहरुख खान की फिल्म बॉजीगर के अनुसार अगर कोई लूजर आपको कोई सलाह दे, और आप उससे बचना चाहते हैं, तो आप बोल सकते हैं, कि उड़ने की बात परिंदो को करनी चाहिये, जिन परिंदो के पर टूट चुके हो वो उड़ने की बात नहीं करते।

अगर कोई अपनी गलती नहीं मान रहा, और आप उसे अपनी गलती मानने की सलाह देते हैं, तब आप उनसे कह सकते हैं, कि “माफी मांगने से भी इंसान छोटा या बड़ा नहीं हो जाता, और जो माफ़ कर देता है, उस इंसान का दिल बहुत बड़ा होता है।”

शाहरुख खान की फिल्म “डॉन 2” के एक डायलॉग के अनुसार अगर आप से कोई गलत काम हो गया, और आपको खुद को बचाने के लिये कोई बहाना नहीं मिल रहा, तो आप बोल सकते हैं, कि मुझे किसी से लड़ने का शौक नहीं, लोग मुझे खुद से लड़ने के लिये मजबूर कर देते हैं।

शादी से परेशान लोगो को तसल्ली देता हुआ एक डायलॉग जो उनकी फिल्म “कभी अलविदा न कहना” का है, ” सोच समझकर शादी कौन करता है।”

चक दे इंडिया के अनुसार अगर किसी काम को करने के लिये आपके पास समय कम है, तो उसे कम समय में ही अपना पूरा जोर लगा दो। हार हो या जीत ये तुम्हे नहीं पता, लेकिन उसमे ऐसे मेहनत करो, कि बाद में तुम्हे खुद पर अफ़सोस ना हो।

लड़कियों को इंप्रेस करने के लिये शाहरुख खान ने अपनी फिल्म “यस बॉस” में एक धांसू डायलॉग बोला, जो ये था – आदमी मैं अच्छा और नेक हूँ, और मौसम अच्छा हैं, घूमने चले।

फिल्‍म ओम शांति ओम के अनुसार “अगर आप अपने किसी भी चीज को पूरी शिद्दत से चाहते हैं, तो उसे पाने से दुनिया की कोई भी ताकत आपको रोक नहीं सकती।”

अगर आप कोई काम कर रहे हैं, और कोई आपको डिमोरलाइज करते हुये कह रहा है, कि आप यह काम नहीं कर सकते, तब “चक दे इंडिया” के अनुसार जबाब दे, कि जो काम हम नहीं कर सकते, वही काम तो हमें करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty − 9 =